यह है भारत का NRI Village

dharmaj

 

गांव का नाम सुनते ही आपकोअपने गांव की याद आती है, जहां कच्चे मकान, कच्ची सड़कें,हरे भरे खेत, पशुओं का डेरा देखने को मित्रता है, हालाँकि आधुनिकता में अब गाँवों की तस्वीर बदली हैं, लेकिन, भारत में एक ऐसा गांव भी है, जहां के लोगों की लग्जरी लाइफ देखकर हर कोई हैरान हो जाता है। गुजरात के आणंद जिले का ‘धर्मज’ (Dharmaj)एक ऐसा गांव है , जो यकीनन, आपके दिलो-दिमाग में गांवों की तस्वीर बदल सकता है। यहां संपन्नता आपको तमाम जगह बिखरी नजर आएगी। गांव के लोग शहरी और ग्रामीण दोनों परिवेश की जिंदगी जीते हैं।

dharmaj

12 जनवरी को मनाया जाता है धर्मज-डे

गांव वाले हर साल 12 जनवरी को धर्म॑ज-डे सेलिब्रेट करते हैं, जिसमें शामिल होने के लिए दुनिया के कोने-कोने में बसे गांव के एनआरआई पूरे परिवार के साथ आते हैं। इस बार यहां 44वां Dharnaj Dayमनाया गया। फ्लोरिडा(अमरीका) से लेकर फिजी और डबलिन (आयरलैण्ड) से लेकर डरबन (दक्षिण अफ्रीका) तक दुनिया भर में फैले इस गांव के लोग इस दिन अपने गांव को लौटते हैं।

NRI Village भी कहलाता है धर्मज

गांव की ख़ास बात यह है कि इसे एनआरआई का गांव भी कहा जाता है, यहां हर घर से एक व्यक्ति विदेश में काम धंधा करता है। यहां लगभग हर परिवार में एक भाई गांव में रहकर खेती करता है, तो दूसरा भाई विदेश में जाकर पैसे कमाता है। ऐसा कहा जाता है की हर देश में आपको धर्मज का व्यक्ति जरूरमिलेगा।

गांव की सड़कों पर दौड़ती हैं मर्सडीज और बीएमडब्लू

यहां आपको पक्के और साफ सुथरे रास्ते दिखाई देंगे| साथ ही यहां मैक्डॉनल्ड समेत कई बड़े रेस्टोरेंट भी नजर आएंगे| इस गांव की सड़कों पर मर्सडीज और बीएमडब्लू जैसी महंगी गाड़ियां दौड़ती है। धर्मज गांव की जनसंख्या तकरीबन 42 हजार है. लेकिन यहां आपको दर्जनभर से ज्यादा प्राइवेट और सरकारी बैंक मिल जाएंगे| लेकिन ऐसा नहीं है कि यहां बैंक खाली रहते हैं. यहां तो लोगों के खातों में करोड़ों रुपये की रकम जमा मिलेगी| इसके अलावा आयुर्वेदिक अस्पताल से लेकर सुपर स्पेशिलिएटी वाले हॉस्पिटल भी इस गांव में हैं।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *